Metaverse क्या हैं? और कैसे होगा इसका इस्तेमाल?

आज सभी जानना चाहते हैं कि Metaverse क्या हैं? (What is Metaverse In Hindi) और भविष्य में कैसे होगा इसका इस्तेमाल? क्योंकि आज Metaverse काफी चर्चा में हैं. इसी मेटावर्स की वजह से फेसबुक ने अपना नाम Meta रखा हैं.

क्या आप जानना चाहते है कि Metaverse Kya Hai? और मेटा का मतलब (Meta Meaning In Hindi) क्या होता हैं? यदि नहीं, तो हम आपको मेटावर्स के बारे में Detailed में बताएँगे.

जब से फेसबुक का नया नाम (Facebook New Name) Meta हुआ है या जब से फेसबुक ने अपना नाम बदल कर मेटा रखा है तब से Metaverse कभी चर्चा में हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि Metaverse क्या हैं? और Metaverse का मतलब क्या होता हैं? (Metaverse Meaning In Hindi) तो आपको इस पोस्ट में मेटावर्स के बारे में जानकारी बताएँगे.

Meta का मतलब क्या हैं? (Meta Meaning In Hindi)

Facebook के सीईओ मार्क जकरबर्ग के मुताबिक मेटा का ग्रीक में मतलब Beyond होता है, यानी हद से ज्यादा. यहाँ पर Beyond का मतलब (beyond meaning in hindi) ‘अपनी सोच के परे’ हैं.

इसको ऐसे समझ सकते हैं कि कंपनी का नाम फेसबुक से बदलकर Meta इसलिए किया गया है ताकी इसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से कहीं ज्यादा आगे एक वर्चुअल दुनिया में ले जाया जा सके. अब जान लेते है कि मेटावर्स क्या हैं? (Metaverse Kya Hai) और मेटावर्स का मतलब क्या होता हैं?

Metaverse क्या हैं? Metaverse Meaning In Hindi

मेटावर्स एक एसा शब्द है जिसका मतलब एक वर्चुअल दुनिया होता हैं. मेटावर्स काफी पुराना हैं. नील स्टीफेंसन ने 1992 में अपने एक डायस्टोपियन उपन्यास “स्नो क्रैश” में इसके बारे में बताया था. स्टीफेंसन के उपन्यास में मेटावर्स का मतलब (Metaverse Meaning in Hindi) एक ऐसी दुनिया से था जिसमें लोग गेम में डिजिटल दुनिया वाले गैजेट जैसे हेडफोन और वर्चुअल रियलिटी की मदद से आपस में कनेक्ट होते हैं.

मेटावर्स का मतलब क्या होता हैं?

मेटावर्स का मतलब एक ऐसी वर्चुअल दुनिया जिसमे आप सब कुछ कर सकते हैं जो आप असल दुनिया में करते हैं. शुरुआत करते हैं Web 1.0 से, दरअसल internet की शुरुआत जब हुई थी तो ज्यादातर चीजें टेक्स्ट के फॉर्म में हुआ करती थीं. इसके बाद आया Web 2.0 जो अभी मौजूदा समय में है.

Web 2.0 में टेक्स्ट के अलावा सबकुछ है. Audio और Video ही नहीं, बल्कि 3D और इमर्सिव एक्स्पीरिएंस भी Web 2.0 में मिलता है. सवाल ये है कि Web 2.0 के बाद क्या? यहीं से शुरू होती है metaverse की कहानी. क्योंकि Metaverse को Web 3.0 कहा जा रहा है.

इसलिए ऐसा ऐसा कहना कोई बुरी बात नहीं कि आने वाले 5 से 10 साल में internet इस्तेमाल करने का तरीका पूरी तरह से बदल जाएगा और लोग मेटावर्स, यानी एक नई दुनिया में शिफ्ट हो चुके होंगे.

कैसे होगा Metaverse का इस्तेमाल?

ऐसे करें Metaverse की वर्चुअल दुनिया में एंट्री. अगर आप भी Metaverse की दुनिया में जाना चाहते हैं तो इसके लिए आप कुछ बेसिक चीजों की जरूरत होगी. इसके लिए सबसे पहले आपको लैपटॉप, हाई स्पीड इंटरनेट और वीआर हेडसेट की जरूरत होगी. आने वाले समय में Metaverse में आपको हेंडसेट गियर की भी जरूरत होगी.

Metaverse की सुरूआत कब हुई?

मेटावर्स काफी पुराना हैं. नील स्टीफेंसन ने 1992 में अपने एक डायस्टोपियन उपन्यास “स्नो क्रैश” में इसके बारे में बताया था.

अंतिम शब्द:

अब आप जान गए होंगे कि Metaverse क्या होता हैं? और Metaverse Meaning In Hindi क्या हैं? फेसबुक ने भी इसी को देखते हुए अपना नया नाम मेटा रखा हैं ताकि वर्चुअल दुनिया बना सके.

मैं HindiYukti का फाउंडर हूँ। मैं अपने ब्लॉग पर हिंदी भाषा में पैसे कमाने के तरीके, बिजनेस आईडिया, फाइनेंस, लोन्स, क्रिप्टो करेंसी, इंटरनेट और टेक्नोलॉजी के बारे में Detailed जानकारी शेयर करता हूँ।

Leave a Comment